NCERT Solutions Class 7 विज्ञान Chapter-1 (पादपों में पोषण)

NCERT Solutions Class 7 विज्ञान Chapter-1 (पादपों में पोषण)

NCERT Solutions Class 7  विज्ञान 7 वीं कक्षा से Chapter-1 (पादपों में पोषण) के उत्तर मिलेंगे। यह अध्याय आपको मूल बातें सीखने में मदद करेगा और आपको इस अध्याय से अपनी परीक्षा में कम से कम एक प्रश्न की उम्मीद करनी चाहिए। हमने NCERT बोर्ड की टेक्सटबुक्स हिंदी विज्ञान के सभी Questions के जवाब बड़ी ही आसान भाषा में दिए हैं जिनको समझना और याद करना Students के लिए बहुत आसान रहेगा जिस से आप अपनी परीक्षा में अच्छे नंबर से पास हो सके।
Solutions Class 7 विज्ञान Chapter-1 (पादपों में पोषण)
एनसीईआरटी प्रश्न-उत्तर

Class 7 विज्ञान

पाठ-1 (पादपों में पोषण)

अभ्यास के अन्तर्गत दिए गए प्रश्नोत्तर

पाठ-1 (पादपों में पोषण)

पाठ से जुड़े अन्य महत्वपूर्ण प्रश्न उत्तर

प्रश्न 1 – पहेली जानना चाहती है कि पादपों की तरह हमारा शरीर भी कार्बनडाइऑक्साइड, जल एवं खनिज से अपना भोजन स्वयं क्यों नहीं बना सकता।

उत्तर- पादप प्रकाश संश्लेषण प्रक्रम द्वारा अपना खाद्य स्वयं संश्लेषित करते हैं। पादप कार्बन डाइऑक्साइड, जल एवं खनिज जैसे सरल रासायनिक पदार्थों का उपयोग खाद्य संश्लेषण के लिए करते हैं। प्रकाश संश्लेषण के लिए क्लोरोफ़िल एवं सूर्य का प्रकाश अनिवार्य रूप से आवश्यक है।

प्रश्न 2 – बूझो जानना चाहता है कि पादप अपना भोजन किस प्रकार बनाते हैं।

उत्तर- केवल पादप ही ऐसे जीव हैं जो जल, कार्बन डाइऑक्साइड एवं खनिज सहायता से अपना भोजन बनाते हैं। ये सभी पदार्थ उनके परिवेश में उपलब्ध होते है। पोषक पदार्थ सजीवों की शारीरिक संरचना तथा क्षतिग्रस्त भागों के रख रखाव के लिए समर्थ बनाते है तथा विभिन्न जैव प्रक्रमों के लिए भी ऊर्जा प्रदान करते हैं।

प्रश्न 3 – बूझो जानना चाहता है कि जड़ द्वारा अवशोषित जल एवं खनिज पत्ती तक किस प्रकार पहुंचते हैं ?

उत्तर- पत्तियाँ पादप की खाद्य फैक्ट्रियाँ हैं। अतः सभी कच्चे पदार्थ पत्तियों तक पहुँचने चाहिए। मृदा में उपस्थित जल एवं खनिज जड़ (मूल) द्वारा अवशोषित किए जाते हैं तथा तने के माध्यम से पत्तियों तक पहुँचाए जाते हैं। पत्ती की सतह पर उपस्थित सूक्ष्म रंध्रों द्वारा वायु में उपस्थित कार्बन डाइऑक्साइड प्रवेश करती है। यह रंध्र द्वारकोशिकाओं द्वारा घिरे होते हैं। ऐसे छिद्रों को रंध्र कहते हैं। जल एवं खनिज, वाहिकाओं द्वारा पत्तियों तक पहुँचाए जाते हैं। ये वाहिकाएँ नली के समान होती हैं तथा जड़, तना, शाखाओं एवं पत्तियों तक फैली होती हैं। पोषकों को पत्तियों तक पहुँचाने के लिए ये वाहिकाएँ एक सतत् मार्ग बनाती हैं।

प्रश्न 4 – पहेली जानना चाहती है कि पत्तियों में ऐसी क्या विशेषता है कि वे खाद्य पदार्थों का संश्लेषण कर सकती है परन्तु पादप के दूसरे भाग नहीं।

उत्तर-पत्तियों में एक हरा वर्णक होता है जिसे क्लोरोफिल कहते है। क्लोरोफिल सूर्य के प्रकाश की ऊर्जा का संग्रहण करने में पत्ती की सहायता करता है। इस ऊर्जा का उपयोग जल एवं कार्बनडाइऑक्साइड से खाद्य संश्लेषण में होता है क्योंकि खाद्य संश्लेषण सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में होता है।

प्रश्न 5 – बूझो ने देखा कि कुछ पादपों की पत्तियाँ गहरी लाल , बैंगनी अथवा भूरे रंग की होती है । यह जानना चाहता है कि क्या इन पतियों में भी प्रकाश संश्लेषण होता है ?

उत्तर- पत्तियों के अतिरिक्त, पादपों के दूसरे हरे भागों जैसे कि हरे चने एवं हरी शाखाओं में भी प्रकाश संश्लेषण होता है। मरुस्थलीय पादपों में वाष्पोत्सर्जन द्वारा जल क्षय को कम करने के लिए पत्तियाँ शल्क अथवा शूल रूपी हो जाती हैं। इन पादपों के तने हरे होते हैं, जो प्रकाश संश्लेषण का कार्य करते हैं।

अभ्यास:-

प्रश्न 1 – जीवों को खाद्य की आवश्यकता क्यों होती है ?

उत्तर-जीवों को निम्नलिखित कारणों से खाद्य की आवशयकता होती है जैसे :- ऊर्जा प्राप्ति करने के लिए, शरीर का निर्माण करने के लिए,  शरीर में कोशिकाओं एवं उत्तकों की टूट–फूट की मरम्मत के लिए, शरीर की वृद्धि एवं विकास के लिए।

प्रश्न 2 – परजीवी एवं मृतजीवी में अंतर स्पष्ट कीजिए ?

उत्तर- परजीवी – वह जीव है जो अन्य जीव (परपोषी) से भोजन एवं आवास प्राप्त करता है तथा परपोषी को हानि भी पहुंचाता है, परजीवी कहलाता है। इस प्रकार परजीवी परपोषी को नुकसान पहुँचाकर लाभ प्राप्त करता है। उदाहरण के लिए, अमरबेल।

मृतजीवी – वह जीव जो पौधों एवं जंतुओं के गले- सड़े जैविक पदार्थों से अपना भोजन प्राप्त करता है, मृतजीवी कहलाता है। उदाहरण के लिए, कवक एवं जीवाणु।

प्रश्न 3 – आप पत्ती में मंड (स्टार्च) की उपस्थिति का परिक्षण कैसे करेंगे ?

उत्तर- पत्तियों में मंड (स्टार्च) की उपस्थिति का परीक्षण करने के लिए आयोडीन विलयन का उपयोग किया जाता है। पौधे की एक पत्ती लेकर उस पर आयोडीन विलयन की कुछ बूंदें डालिए। पत्ती का रंग नीला – काला हो जायेगा। यह दर्शाता है कि पत्ती में मंड (स्टार्च) है।

प्रश्न 4 – हरे पादपों में खाद्य संश्लेषण प्रक्रम का संक्षिप्त विवरण दीजिए।

Solutions Class 7 विज्ञान Chapter-1 (पादपों में पोषण)

उत्तर-  हरे पादपों में खाद्य संश्लेषण प्रकाश संश्लेषण की क्रिया द्वारा होता है। प्रकाश संश्लेषण के दौरान पत्ती की क्लोरोफिल युक्त कोशिकाएँ, सूर्य के प्रकाश की उपस्थिति में कार्बन डाइऑक्साइड एवं जल से कार्बोहाइड्रेट का संश्लेषण करती हैं। इस प्रक्रम को निम्नलिखित समीकरण द्वारा दर्शाया जा सकता है। जैसे:-

इस प्रक्रम में ऑक्सीजन निर्मुक्त होती है। कार्बोहाइइंट अंतत : मंड (स्टार्च) में परिवर्तित हो जाते हैं। पत्ती में स्टार्च को उपस्थिति प्रकाश संश्लेषण प्रक्रम का सम्पन्न होना दर्शाती है। स्टार्च भी एक प्रकार का कार्याहाइड्रेट होता है।

प्रश्न 5 – किसी प्रवाह चित्र की सहायता दर्शाइए की पादप भोजन के मूलभूत स्त्रोत है ?

उत्तर-

Solutions Class 7 विज्ञान Chapter-1 (पादपों में पोषण)

पत्तियों द्वारा सौर ऊर्जा संग्रहित की जाति है तथा पादप में खाद्य के रूप में संचित हो जाति है। प्रकाश संश्लेषण उपस्थित न होने की स्थिति में खाद्य उपलब्ध नहीं होगा। सभी जीवों का अस्तित्व प्रत्यक्ष अथवा परोक्ष रूप से पादपों द्वारा बनाए भोजन पर निर्भर करता है । सभी खाद्य श्रृंखलाएं पादपों से ही प्रारंभ होती हैं। इस प्रकार पौधे भोजन के मूलभूत स्रोत हैं।

प्रश्न 6 – रिक्त स्थानों की पूर्ति कीजिए:

(क) क्योंकि हरे पादप अपना खाद्य स्वंय बनाते है, इसलिए  उन्हें _____कहते है।

(ख) पादपो द्वारा संश्लेषित खाद्य का भंडारन, _____ के रूप में किया जाता है।

(ग) प्रकाश संश्लेषण के प्रक्रम में जिस वर्णक द्वारा सौर ऊर्जा संग्रहित की जाती है। उसे _____कहते हैं।

(घ) प्रकाश संश्लेषण में पादप वायुमंडल से ____लेते है तथा _____ का उत्पादन करते है।

उत्तर- (क) क्योंकि हरे पादप अपना खाद्य स्वंय बनाते है, इसलिए उन्हें स्वपोषी कहते है ।

(ख) पादपो द्वारा संश्लेषित खाद्य का भंडारन, मंड (स्टार्च) के रूप में किया जाता है।

(ग) प्रकाश संश्लेषण के प्रक्रम में जिस वर्णक द्वारा सौर ऊर्जा संग्रहित की जाती है। उसे क्लोरोफिल कहते हैं।

(घ) प्रकाश संश्लेषण में पादप वायुमंडल से कार्बन डाइऑक्साइड लेते है तथा ऑक्सीजन का उत्पादन करते है।

प्रश्न 7 – निम्न कथनों से सम्बन्धित परिभाषित शब्द बताइए:

(क) पीत दुर्बल तने वाला परजीवी पादप।

(ख) एक पादप जिसमे स्वपोषन एवं विषम पोषण दोनों ही प्रणाली पाई जाती है।

(ग) वे रंध्र, जिनके द्वारा पत्तियों में गैसों का आदान-प्रदान (विनिमय) होता है।

उत्तर-(क) अमरबेल

          (ख) घटपर्णी

          (ग) पर्ण रंध्र

प्रश्न 8 – सही उत्तर पर (√) का चिन्ह लगाइए:-

(क) अमरबेल उदहारण है किसी –

     (i) स्वपोषी का

     (ii) परजीवी का

     (iii) मृत जीवी का

     (iv) परपोषी का

उत्तर- (ii) परजीवी का

(ख) कीटों को पकड़कर अपना आहार बनाने वाले पादप का नाम हैं –

      (i) अमरबेल

     (ii) गुड़हल

   (ii) घटपर्णी (पिचर पादप)

   (iv) गुलाब

उत्तर- घटप्रणी (पिचर पादप)

प्रश्न 9 – कॉलम A  में दिए गए शब्दों का मिलान कॉलम  B  के शब्दों से कीजिए :-

    कॉलम A               कॉलम B

(क) क्लोरोफिल         (i) जीवाणु

(ख) नाइट्रोजन          (ii) परपोषित

(ग) अमरबेल           (iii) घटपर्णी (पिचर पादप)

(घ) जंतु                  (iv) पत्ती

(ड) कीटभक्षी          (v) परजीवी

उत्तर- कॉलम A       कॉलम B

(क) क्लोरोफिल        (i) जीवाणु

(ख) नाइट्रोजन          (ii) परपोषीत

(ग) अमरबेल            (iii) घटपर्णी (पिचर पादप)

(घ) जंतु                 (iv) परपोषीत

(च) कीटभक्षी            (v) पत्ती

प्रश्न 10 – निम्न कथनों में से सत्य एवं असत्य कथनों का चयन कीजिए:-

(क) प्रकाश संश्लेषण में कार्बन डाइऑक्स मुक्त होती है।

(ख) ऐसे पादप, जो अपना भोजन स्वयं संशालेषित करते है, मृतजीवी कहलाते है।

(ग) प्रकाश संश्लेषण का उत्पाद प्रोटीन नहीं है।

(घ) प्रकाश संश्लेषण में सौर ऊर्जा का रासायनिक ऊर्जा में रूपांतरण हो जाया है।

उत्तर-(क) असत्य

(ख) असत्य

(ग) सत्य

(घ) सत्य

सही विकल्प चुनिए :

प्रश्न 11 – पादप के किस भाग दवारा प्रकाश संश्लेषण हेतु वायु से कार्बन डाइ ऑक्साइड ली जाती है ?

(क) मूल रोम

(ख) रंध्र

(ग) पर्णशिराएं

(घ) बाह्यदल

उत्तर- (ख) रंध

प्रश्न 12-वायुमंडल से मुख्यतः जिस भाग द्वारा पादप कार्बनडाइऑक्साइड प्राप्त करते है, वह है –

(क) जड़

(ख) तना

(ग) पुष्प

(घ) पत्तियां

उत्तर- (घ) पत्तियां

एनसीईआरटी सोलूशन्स क्लास 7 विज्ञान पीडीएफ

Post a Comment