Min menu

Pages

NCERT Solutions Class 8 दूर्वा Chapter-10 (बस की सैर कहानी)

NCERT Solutions Class 8 दूर्वा Chapter-10 (बस की सैर कहानी)

NCERT Solutions Class 8  दूर्वा 8 वीं कक्षा से Chapter-10 (बस की सैर कहानी) के उत्तर मिलेंगे। यह अध्याय आपको मूल बातें सीखने में मदद करेगा और आपको इस अध्याय से अपनी परीक्षा में कम से कम एक प्रश्न की उम्मीद करनी चाहिए। हमने NCERT बोर्ड की टेक्सटबुक्स हिंदी दूर्वा केसभी Questions के जवाब बड़ी ही आसान भाषा में दिए हैं जिनको समझना और याद करना Students के लिए बहुत आसान रहेगा जिस से आप अपनी परीक्षा में अच्छे नंबर से पास हो सके।


Solutions Class 8 दूर्वा Chapter-10 (बस की सैर कहानी)
एनसीईआरटी प्रश्न-उत्तर

Class 8 दूर्वा

पाठ-10 (बस की सैर कहानी)

अभ्यास के अन्तर्गत दिए गए प्रश्नोत्तर 

पाठ-10 (बस की सैर कहानी)

Page No 72:

Question 1:

(क) शहर की ओर जाते हुए वल्ली ने बस की खिड़की से बाहर क्या-क्या देखा?

"अब तो उसकी खिड़की से बाहर देखने की इच्छा भी खत्म हो गई थी।"

(ख) वापसी में वल्ली ने खिड़की के बाहर देखना बंद क्यों कर दिया?

(ग) वल्ली ने बस के टिकट के लिए पैसों का प्रबंध कैसे किया?

उत्तर :

(क) शहर की ओर जाते समय वल्ली ने नहर, उसके पार ताड़ के वृक्ष, घास के मैदान, सुदंर पहाड़ियाँ, नीला आकाश और गहरी खाई देखी। उसने बस की खिड़की से दूर-दूर फैले खेत, हरियाली ही हरियाली देखी।

(ख) उसने रास्ते में एक मरी बछिया देखी जिसे देखकर वह बहुत ही दुखी हुई। बछिया का ख्याल उसे  बार-बार सता रहा था,  जिससे खिड़की से बाहर देखने का उसका उत्साह ढीला पड़ गया और उसने बाहर देखना बन्द कर दिया।

(ग) वल्ली ने छोटी-छोटी रेजगारी इकट्टी की। अपनी मीठी गोलियाँ, गुब्बारे, खिलौने लेने की इच्छा को दबाया, यहाँ तक कि पैसे इकट्ठे करने के लिए वह गोल घूमने वाले झूले पर भी नहीं बैठी।

Page No 72:

Question 2:

(क) वल्ली की माँ जाग जाती और वल्ली को घर पर न पाती?

(ख) वल्ली शहर देखने के लिए बस से उतर जाती और बस वापिस चली जाती?

उत्तर :

(क) यदि वल्ली की माँ जाग जाती और वल्ली को घर पर न पाती तो परेशान हो जाती और उसे गाँव में ढूँढ़ने लगती।

(ख) यदि वल्ली शहरे देखने के लिए बस से उतर जाती और बस चली जाती तो वह छोटी बच्ची शहर में खो भी सकती थी।

Page No 73:

Question 3:

"ऐसी छोटी बच्ची का अकेले सफ़र करना ठीक नहीं।"

(क) क्या तुम इस बात से सहमत हो? अपने उत्तर का कारण भी बताओ।

(ख) वल्ली ने यह यात्रा घर के बड़ों से छिपकर की थी। तुम्हारे विचार से उसने ठीक किया या गलत? क्यों?

(ग) क्या तुमने भी कभी कोई काम इसी तरह छिपकर किया है? उसके बारे में लिखो।

उत्तर :

(क) हाँ! हम इस बात से सहमत हैं। एक छोटी बच्ची का अकेले सफ़र करना ठीक नहीं है। वल्ली एक नादान बच्ची है, रास्ता भी भूल सकती है। कोई उसे बहका कर भी ले जा सकता है।

(ख) उसने यह गलत किया। इससे वह अपने परिवार से बिछुड़ सकती थी।

(ग) नहीं हमने कोई काम छिपकर नहीं किया। कभी-कभी कापी के पन्ने ज़रूर फाड़े हैं। जब भी माँ को इस बात का  पता चला हमें डाँट पड़ी है।(इस  प्रश्न का उत्तर हर छात्र के लिए अलग-अलग होगा क्योंकि यह प्रश्न हर छात्र से पूछा गया है।जहाँ तक संभव हो छात्र इस प्रश्न का उत्तर स्वयं दें।यह उनके व्यक्तिगत अनुभव पर आधारित है इसलिए यह आवश्यक नहीं है कि हर छात्र का उत्तर यही हो या एक जैसे हों।)

Page No 73:

Question 4:

"मैंने कह दिया न नहीं......।" उसने दृढ़ता से कहा।

वल्ली ने कंडक्टर से खाने-पीने का सामान लेने से साफ़ मना कर दिया।

(क) ऐसी और कौन-कौन सी बातें हो सकती हैं जिनके लिए तुम्हें भी बड़ों को दृढ़ता से मना कर देना चाहिए?

(ख) क्या तुमने भी कभी किसी को किसी चीज़/कार्य के लिए मना किया है? उसके बारे में बताओ।

उत्तर :

(क) ऐसी निम्नलिखित बातें हैं जिनके लिए बड़ों को दृढ़ता से मना कर देना चाहिए –

1. अनजान व्यक्तियों के साथ कहीं नहीं जाना चाहिए।

2. यदि घर जाने की बात भी कहें तो भी मना करना चाहिए।

3. किसी को भी मामा, काका आदि नहीं बनाना चाहिए।

(ख) हाँ एक बार हमारे स्कूल के चपरासी ने हमें टॉफियाँ देने की कोशिश की पर हमने मना कर दिया।

Page No 73:

Question 5:

वल्ली को या उसके किसी साथी को घमंडी शब्द का अर्थ ही मालूम नहीं था।

(क) तुम्हारे विचार से घमंडी का क्या अर्थ होता है?

(ख) तुम किसी घमंडी को जानते हो? तुम्हें वह घमंडी क्यों लगता/लगती है?

(ग) वल्ली 'घमंडी' शब्द का अर्थ जानने के लिए क्या-क्या कर सकती थी? उसके लिए कुछ उपाय सुझाओ।

उत्तर :

(क) हमारे विचार से जो अपनी छोटी-छोटी बातों के सामने भी किसी को अहमियत न दे, उसे घमंडी कहते हैं।

(ख) हमारी एक दोस्त है जो घमंडी है। उससे कोई भी बात करो, वह किसी को महत्व नहीं देती बल्कि अपनी बात को आगे रखने की कोशिश करती है।

(ग) वल्ली 'घमंडी' शब्द का अर्थ जानने के लिए निम्नलिखित उपाय कर सकती थी –

1. माँ से पूछ सकती थी। 

2. अपनी टीचर से पूछ सकती थी। 

3. अपनी किसी सहेली जो उससे कुछ बड़ी हो, उससे पता कर सकती थी।

Page No 73:

Question 6:

वल्ली ने एक खास काम के लिए पैसों की बचत की। बहुत से लोग अलग-अलग कारणों से रुपए-पैसे की बचत करते हैं। बचत करने के तरीके भी अलग-अलग हैं।

(क) किसी डाकघर या बैंक जाकर पता करो कि किन-किन तरीकों से बचत की जा सकती है?

(ख) घर पर ही बचत करने के कौन-कौन से तरीके हो सकते हैं?

(ग) तुम्हारे घर के बड़े लोग बचत किन तरीकों से करते हैं? पता करो।

उत्तर :

(क) बैंक में, फिक्स डिपोजिट में, छोटे-छोटे मनी बैंक में जैसे गुल्लक लेकर आदि में पैसे जमा करके पैसों की बचत की जा सकती है।

(ख) गुल्लक में पैसे डालकर, अलग पर्स में जमा करके, कुछ लोग आपस में मिलकर थोड़े-थोड़े पैसे एक साथ जमा करें तो घर पर ही पैसें जमा हो सकते हैं।

(ग) बैंक में जमा करके, फिक्स डिपोजिट से किसान पत्र आदि लेकर घर के बड़े लोग बचत करते हैं।

एनसीईआरटी सोलूशन्स क्लास 8 दूर्वा  पीडीएफ

Comments