Min menu

Pages

NCERT Solutions Class 8 हमारे अतीत -III Chapter- 1 (कैसे, कब और कहाँ)

NCERT Solutions Class 8 हमारे अतीत -III Chapter- 1 (कैसे, कब और कहाँ)

NCERT Solutions Class 8  हमारे अतीत -III 8 वीं कक्षा से Chapter-1 (कैसे, कब और कहाँ) के उत्तर मिलेंगे। यह अध्याय आपको मूल बातें सीखने में मदद करेगा और आपको इस अध्याय से अपनी परीक्षा में कम से कम एक प्रश्न की उम्मीद करनी चाहिए। हमने NCERT बोर्ड की टेक्सटबुक्स हिंदी हमारे अतीत -III केसभी Questions के जवाब बड़ी ही आसान भाषा में दिए हैं जिनको समझना और याद करना Students के लिए बहुत आसान रहेगा जिस से आप अपनी परीक्षा में अच्छे नंबर से पास हो सके।
Solutions Class 8 हमारे अतीत -III Chapter- 1 (कैसे, कब और कहाँ)
एनसीईआरटी प्रश्न-उत्तर

Class 8 हमारे अतीत -III

पाठ-1 (कैसे, कब और कहाँ)

अभ्यास के अन्तर्गत दिए गए प्रश्नोत्तर 

पाठ-1 (कैसे, कब और कहाँ)

फिर से याद करें |

प्रश्न 1.

सही और गलत बताएँ ।

(क) जेम्स मिल ने भारतीय इतिहास को हिंदू, मुसलिम, ईसाई, तीन काल खंडों में बाँट दिया था।

उत्तर :

सही,


(ख) सरकारी दस्तावेज़ों से हमें ये समझने में मदद मिलती है कि आम लोग क्या सोचते हैं।

उत्तर :

गलत,


(ग) अंग्रेज़ों को लगता था कि सही तरह शासन चलाने के लिए सर्वेक्षण महत्त्वपूर्ण होते हैं।

उत्तर :

सही।


आइए विचार करें


प्रश्न 2. 

जेम्स मिल ने भारतीय इतिहास को जिस तरह काल खंडों में बाँटा है, उसमें क्या समस्याएँ हैं?

उत्तर :

1817 में स्कॉटलैंड के अर्थशास्त्री और राजनीतिक दार्शनिक जेम्स मिल ने तीन खंडों में ‘ए हिस्ट्री ऑफ़ ब्रिटिश इंडिया’ (ब्रिटिश भारत का इतिहास) किताब लिखी। इस किताब में उन्होंने भारत के इतिहास को निम्नलिखित तीन काल खंडों में बाँटा था

  1. हिंदू,
  2. मुसलिम,
  3. ब्रिटिश

समस्या-जेम्स मिल द्वारा भारत के इतिहास को इस प्रकार तीन खंडों में बाँटने से निम्नलिखित समस्याएँ थीं

  1. यह विभाजन सांप्रदायिकता के आधार पर किया गया था।
  2. यह काल विभाजन औपनिवेशिक विचारधारा पर आधारित था।
  3. इस काल विभाजन का उद्देश्य भारतीयों को अलग-अलग पहचान देकर फूट डालना था।


प्रश्न 3. 

अग्रेज़ों ने सरकारी दस्तावेजों को किस तरह सुरक्षित रखा?

उत्तर :

अंग्रेजों ने सरकारी दस्तावेजों को निम्नलिखित प्रकार से सुरक्षित रखा था

  1. सभी शासकीय संस्थानों में अभिलेख कक्ष बनवाए।
  2. तहसील के दफ्तर, कलेक्टरेट, कमिश्नर के दफ्तर, प्रांतीय सचिवालय, कचहरी-सभी के लिए | अपने-अपने रिकॉर्ड रूम (कक्ष) बनवाए।
  3. महत्त्वपूर्ण दस्तावेज़ों को सुरक्षित रखने के लिए अभिलेखागार और संग्रहालय जैसे संस्थान भी बनवाए।


प्रश्न 4. 

इतिहासकार पुराने अखबारों से जो जानकारी जुटाते हैं वह पुलिस की रिपोर्टों में उपलब्ध जानकारी से किस तरह अलग होती है? ।

उत्तर :

पुराने अखबारों से जानकारियाँ-पुराने अखबारों से इतिहासकार जो जानकारियाँ प्राप्त करते हैं। यह

संवाददाताओं द्वारा क्षेत्र में जाकर इकट्ठी की गयी जानकारियों पर आधारित होती है इस तरह अखबार घटनाओं का सही और विस्तृत विवरण प्रस्तुत करता है। पुलिस रिपोर्ट-पुलिस रिपोर्ट के पक्षपातपूर्ण होने की संभावना होती है, क्योंकि पुलिस रिपोर्ट सरकार की सोच, वरिष्ठ अधिकारियों के दबाव तथा जाँच अधिकारी के व्यक्तित्व पर निर्भर होती है।

आइए करके देखें।


प्रश्न 5. 

क्या आप आज की दुनिया के कुछ सर्वेक्षणों का उदाहरण दे सकते हैं? सोचकर देखिए कि खिलौना

बनाने वाली कंपनियों को यह पता कैसे चलता है कि बच्चे किन चीज़ों को ज्यादा पसंद करते हैं। या सरकार को यह कैसे पता चलता है कि स्कूल में बच्चों की संख्या कितनी है? इतिहासकार ऐसे सर्वेक्षणों से क्या हासिल कर सकते हैं?

उत्तर :

सर्वेक्षणों के उदाहरण-सर्वेक्षणों के कुछ उदाहरण निम्नलिखित हैं

  1. जनगणना ।
  2. चुनाव पूर्व सर्वेक्षण
  3. वनों का क्षेत्रफल जानने के लिए सर्वेक्षण
  4. नए तेल व गैस क्षेत्र का पता लगाने के लिए सर्वेक्षण

खिलौने बनाने वाली कंपनियाँ-खिलौने बनाने वाली कंपनियाँ भी सर्वेक्षण के माध्यम से बच्चों की पसंद का पता लगाती हैं।

स्कूलों में बच्चों की संख्या जानने के लिए-सरकार स्कूल और प्रशासनिक अधिकारियों की रिपोर्ट के सर्वेक्षण के आधार पर स्कूलों में बच्चों की संख्या पता लगाती है।

इतिहासकारों के लिए सर्वेक्षणों का महत्त्व-इतिहासकार सर्वेक्षणों से विभिन्न जानकारियाँ इकट्ठा कर सकते हैं और समाज में आ रहे बदलाव के विषय में लिख सकते हैं।

एनसीईआरटी सोलूशन्स क्लास 8 हमारे अतीत -III पीडीएफ

Comments